Thursday, July 8, 2010

तुम्हारी आँख को देखूं 
तो कुछ लगे ऐसा
नशा शराब मे 
होता है या नहीं होता
<विजय कुमार श्रोत्रिय>
15 March 1989...Bareilly...UP